Mama Ki Badi Beti Ne Mujhe Pataya

मेरा नाम अरमान है फिलहाल मैं पुणे मे रहता हूँ यह मेरी फर्स्ट स्टोरी है. बात तब की है जब मैं 11 वी और 12 वी की पढाई के लिये अपने मामा के घर दिल्ली गया था वहाँ मैं 2 साल तक रहा तब मैंने पहली बार वहाँ जा कर हिलाना (मुठ मारना) सीखा था और मैं अपने मामा के दोनो लड़कों के साथ ब्लू फिल्म भी वहीं पर पहली बार देखी थी मेरे मामा के एक बड़ी बेटी भी है जिसका नाम तनु है वो उस समय दिल्ली यूनिवर्सिटी से बी.ए कर रही थी उसकी लम्बाई 5’5″ होगी दूध की तरह एकदम गोरा रंग और फिगर साली का एकदम लंड खड़ा कर देने वाला था 38-28-38 यारों अब आप ही सोच लो जब वो टॉप और मिनी स्कर्ट पहनती होगी तो क्या जलवे बिखेरती होगी साली.

कई बार मैं उसे घर के काम करते हुये मैं अपना हाथ उसकी गांड पर रग़ड देता था तो वो थोड़ा सा हिल जाती थी मेरा कॉलेज 12 बजे से 4 बजे तक होता था और तनु का भी कॉलेज 12.30 से होता था और मेरे मामा के लड़कों का सुबह 7 बजे से 2 बजे तक था और मामा भी 8.30 को ऑफीस के लिये रोज़ निकल जाते थे घर मे सिर्फ़ मैं, मेरी मामी,और तनु ही रहते थे मैं अपने उपर वाले कमरे मे 11.30 am तक पढ़ता था और मामी और तनु घर की सफाई करते थे मेरी मामी कपड़े धोने के लिये नीचे आँगन मे आ कर कपड़े धोती थी जो की मेरे ऊपर वाले रूम के पीछे वाले दरवाजे से नीचे की ओर एकदम साफ साफ दिखाई देता था और मामी रोज़ कपड़े धोने के बात वहीं पर अपनी नाइट गाउन निकाल कर नहाने लगती थी.

मैं ये नज़ारा रोज़ देखा करता था और रोज़ रोज़ मामी के बड़े बड़े बॉल और उनकी सेक्सी सी चूत को देख के अपने 7 इंच के लंबे लंड को पकड़ के हिलाता था और सारा स्पर्म किसी न्यूज़ पेपर मे गिरा के फेक देता था और जब कभी मामी सुबह सुबह किसी आंटी के घर चली जाती थी तब मुझे असली मौका मिलता था अपनी भूख को शांत करने का जब मामी चली जाती थी तो घर मे मैं और सिर्फ़ तनु ही बचते थे और तनु रोज़ 11 बजे नहाने जाती थी और हमारे बाथरूम मे एक दीवार के कोने मे छोटा सा रोशनदान बना हुआ है जैसे ही तनु नहाने के लिये बाथरूम जाती थी मैं जल्दी से एक कुर्सी लगा के उसे विंडो से उसे देखा करता था ओह वो गोरा बदन और उसके बड़े बड़े दोनो बॉल और उस पर पिंक कलर का निपल यार मैं तो देख के पागल हो जाता था और जब नीचे देखता था तब तो यार वो उसकी चूत की लिप्स दोनो एकदम टाइट टाइट थी और दोनो चिपक के एकदम फूले हुये थे.

मैं हमेशा उसके गोरे सेक्सी बदन को देख कर अपने मोटे और 7 इंच के लंड को हाथो मे पकड़ के ज़ोर ज़ोर से हिलाता था और करीब 15-20 मिनिट तक हिलाने के बाद मेरा सारा रस निकल जाता था और एकदम रिलेक्स फील होता था और मैं उस स्पर्म को एक पेपर मे लपेट के कहीं भी फेक देता था और ऐसे ही 2-3 महीनो तक चलता रहा मैं अपनी मामी और अपनी तनु को नंगा देख-देख कर अपने आप को कंट्रोल मे रखता था और मैं किसी ना किसी बहाने से तनु की गांड पर अपने हाथ को भी रग़ड देता था लेकिन वो कभी कुछ भी नही बोलती थी और मैं हमेशा उसके दोनो बॉल को भी घूरता रहता था और जब वो कॉलेज के लिये तैयार होती तो मेरा भी वही टाइम था कॉलेज जाने का तो वो मुझसे हमेशा पूछा करती थी की आज मैं कैसी लग रही हूँ.

मैं हमेशा उसे अच्छे अच्छे कॉंप्लिमेंट दे कर खुश कर देता था कभी कहता की आप आज हॉट लग रही हो तो कभी कहता की आप बहुत ज़्यादा सेक्सी लग रही हो और वो बहुत खुश हो जाया करती थी और हम दोनो साथ मे ही निकलते थे वो अपनी स्कूटी पर और मैं अपनी बाइक पर कुछ दिन ऐसे ही चलता रहा एक दिन उसने मुझसे बोला की चलो आज कॉलेज की छुट्टी करके कोई मूवी देखने चलते हैं उस समय अनिल कपूर, समीरा रेडी और संजय दत्त की मुसाफिर मूवी लगी हुई थी.

हम दोनो कॉलेज की छुट्टी करके 12 से 3 का शो देखने चले गये वहाँ पर जैसे ही हमने मूवी हॉल मे एंटर किया एकदम अन्धेरा था हम दोनो अपनी अपनी सीट पर बैठ गये हमारे जस्ट आगे वाली सीट पर एक कपल बैठा हुआ था मूवी स्टार्ट हो गई करीब 15-20 मिनिट के बाद वो दोनो कपल किस्सिंग करने लगे और उसी समय समीरा रेडी का भी सेक्सी डांस चल रहा था मैं और तनु उन दोनो को देख रहे थे और फिर कभी एक दूसरे को और वो दोनो कपल एक दूसरे को पागलों की तरह किस किये जा रहे थे ये सब देख के मेरा लंड एकदम कड़क हो कर खड़ा हो गया था ये सब देखते देखते 3 घंटे ख़त्म हो गये और हम मूवी हॉल से बाहर आ गये लेकिन मूवी हॉल से बाहर आने के बाद हम दोनो मे कुछ कुछ चेंज आ गया था तनु मुझसे थोड़ा बोल्ड हो कर बाते करने लगी थी.
तनु : वो लड़का लड़की तो एकदम पागल हो गये थे.
मे : (ये सुन कर मैं थोड़ा हैरान तो था लेकिन काफ़ी खुश भी था) हाँ सच मे पूरे 3 घंटे वो सिर्फ़ किस्सिंग ही करते रहे.
तनु : तो क्या और भी कुछ करना चाहिये था क्या?
मे : नही मैं तो बस ऐसे ही बोल रहा हूँ.
उसके बाद हम अपनी अपनी बाइक पर बैठे और घर आ गये घर आने के बाद हमारे दिमाग़ मे वही सब सीन चल रहा था मैं अब और पागल होता जा रहा था मुझे अब किसी भी कीमत पर तनु को चोदना ही था चाहे जो हो जाये लेकिन कैसे पहला स्टेप लूँ मुझे कुछ समझ मे नही आ रहा था फिर एक दिन ग़लती से मैंने जो स्पर्म से लिपटा हुआ पेपर मेरी एक पेन्ट की पॉकेट मे ही रह गया था और जब तनु ने कपड़े धोने के लिये पेन्ट चेक किया तो उसे वो पेपर मिल गया वो उस पेपर को लेकर सीधे मेरे पास मेरे उपर वाले रूम मे अचानक से आ गई और मैं मामी को नहाते हुये देख कर अपना लंड ज़ोर ज़ोर से हिला रहा था और तनु मेरे कमरे मे कब आई मुझे पता भी नही चला और वो दरवाजे के पास खड़े हो कर मुझे और मेरे लंड को देख रही थी लेकिन उसने कुछ नही बोला और जब तक मेरा पानी निकल नही गया तब तक वो वहीं पर खड़ी हो कर देख रही थी और स्पर्म निकालने के बाद जैसे ही मैं रिलेक्स हो कर घुमा तो तनु को देख कर डर सा गया और जल्दी से अपना पेन्ट पहन लिया और फिर तनु ने पूछा.
तनु : अरमान ये तुम क्या कर रहे थे.
मे : सॉरी तनु दीदी मैं अब दुबारा ऐसा कभी नही करूँगा प्लीज आप किसी को इसके बारे मे मत बोलना प्लीज………..
तनु : (तनु ने अपने हाथ से वो पेपर दिखाते हुये बोला) और ये पेपर किसका है.
मे : ये भी मेरा है और इस पर जो स्पर्म लगा हुआ है वो भी मेरा ही है.
तनु : तुम्हे शर्म नही आती की तुम अपनी मामी को देख कर ऐसा गंदा काम करते हो.
मे : सॉरी तनु दीदी…….मैं अब नही करूँगा.
तनु : तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नही है क्या?
मे : नही है तभी तो ऐसा कर रहा था.
तनु : ठीक है पहली बार तुम्हे मैं छोड़ रही हूँ लेकिन अगर दुबारा तुमने ऐसा काम किया तो मैं सब को बता दूँगी.
उसके बाद हम दोनो तैयार हो कर कॉलेज चले गये लेकिन पूरा दिन मेरे दिमाग़ मे तनु और मेरी मामी ही आ रही थी। मुझे कुछ समझ मे नही आ रहा था की मैं क्या करूँ। फिर शाम को हम दोनो घर आ गये लेकिन किसी की हिम्मत नही हो रही थी की एक दूसरे से बात करें फिर कुछ देर बाद तनु मुझसे नॉर्मल बात करने लगी मुझे भी थोड़ा अच्छा लगा और मैं भी उससे नॉर्मल हो कर बात करने लगा अगले दिन सुबह जब मैं ऊपर के रूम मे पढ़ रहा था तो तनु आ गई और बोलने लगी की मैं बस उपर देखने आई हूँ की तुम फिर से तो नही अपना मोटा सा लंड लेकर हिला रहे हो ना मैं इतना सुनते ही हैरान हो गया और अब मुझमें भी हिम्मत आ गई मैंने बोला “नही तनु दीदी मैं तो पढ़ रहा हूँ”

तनु : अगर मैं कहूँ की मैं तुम्हारे राज़ को छुपाने के बदले मुझे कुछ चाहिये तो क्या तुम मुझे दोगे.
मे : हाँ तनु दीदी आप जो बोलो मैं करने को तैयार हूँ.
तनु : तो ठीक है मुझे आज फिर से देखना है तुम्हारा लंड.
मे : क्यों?
तनु : ठीक है नही दिखाना है तो मत दिखाओ मैं तो मम्मी को सब कुछ बता दूँगी.
मे : ओके… ओके…. मैं दिखाता हूँ इतना बोलते ही तनु खुश हो गई और उसने जल्दी से मेरे रूम का दरवाजा अंदर से बंद कर दिया.
अब वो मेरे पास आ कर बैठ गई थी और मैंने अपना लंड बाहर निकाला लंड के निकलते ही तनु ने उसे अपने हाथ मे ले लिया और तनु अब मेरे लंड को धीरे धीरे दबा भी रही थी और हिला भी रही थी और कुछ ही सेकेंड मे मेरा लंड एकदम कड़क हो गया और मैंने उसे बोला थोड़ा ज़ोर ज़ोर से हिलाने के लिये तो वो ज़ोर ज़ोर से हिलाने लगी मुझे अब और मज़ा आ रहा था तनु और ज़ोर ज़ोर से हिलाने लगी मैं एकदम पागल हो गया था और उसी समय मैं तनु के बॉल को दबा रहा था उसे भी मज़ा आ रहा था तभी मेरा सारा स्पर्म निकल गया और तनु के कपड़े और हाथ पर लग गया मैं 2 मिनिट के लिये शांत हो गया और अब मैंने बोला तनु तुमने तो मेरा लंड देख भी लिया है अब तुम भी मुझे अपना बॉल और चूत दिखाओ ना तो उसने बोला अभी नही अभी मम्मी आ जायेगी जब हमारे पास ज्यादा टाइम होगा तब मैं तुम्हे दिखाउंगी.

फिर हम दोनो तैयार हो कर कॉलेज चले गये अब शाम हो गई थी हम घर आ गये थे लेकिन सब लोग घर पर थे इसलिये हम कुछ भी नही कर पा रहे थे अब हम दोनो मौका तलाशने लगे की कब हम एक सेकेंड के लिये भी अकेले हो बस हम तुरंत किस करना शुरू कर देते थे तनु मेरा लंड दबाने लगती थी और मैं उसके बड़े बड़े बॉल दबाने लगता था किस करते करते काफ़ी दिनों तक यही चलता रहा.

फिर एक दिन वो हसीन पल आ ही गया मामी के भाई की शादी थी तो हमने बोला की आप जाओ हम बाद मे आ जायेगे मामी 4 दिन पहले ही चली गईं अब मेरी और तनु की खुशी का ठिकाना ही नही रहा हम बहुत खुश थे मामी अगले दिन सुबह सुबह शादी मे चली गई मामा भी ऑफीस चले गये और उनके दोनो लड़के भी स्कूल चले गये अब घर मे सिर्फ़ हम दोनो ही रह गये थे मामा के जाते ही हम दोनो ने एक दूसरे को ज़ोर से गले लगा लिया और एक दूसरे को पागलों की तरह किस करने लगे तनु अपने लिप्स को मेरे मुँह मे डाले जा रही थी और मैं भी उसे जोर से किस कर रहा था और अपने दोनो हाथों से उसके दोनो बड़े बड़े बॉल को दबा रहा था.

करीब 10 मिनिट तक हम किस करते रहे मैं उसे किस करते करते बेडरूम में लेकर आ गया और उसे प्यार से बेड पर लेटा दिया और अब मैं तनु के उपर लेट कर उसे किस कर रहा था और बूब्स को दबा रहा था मैंने फिर धीरे धीरे तनु के टॉप के अंदर अपना हाथ डाला तो देखा की आज तनु ने अपना ब्रा भी नही पहना है और मेरा हाथ सीधे तनु के दोनो बॉल पर आ गया है क्या मस्त फीलिंग थी यार मेरा 7 इंच का लंड एकदम कड़क हो गया था अब मुझसे कंट्रोल नही हो रहा था मैंने तनु के टॉप को जल्दी से निकाल कर उससे अलग कर दिया टॉप निकलते ही तनु शर्मा गई और उसने अपने दोनो हाथों से अपनी आँखें बंद कर ली और जैसे ही मैंने टॉप निकाला दो बड़े बड़े बॉल आज मेरी आँखो के इतने करीब थे की मुझे यकीन ही नही हो रहा था और मैं पागलों की तरह उसके दोनो बॉल को दबा दबा के चूसने लगा.
तनु : आआहह….आआहह……. अरमान थोड़ा धीरे करो ना बहुत मज़ा आ रहा है.
तनु : अरमान आइ लव यू……

मैं भी तनु के दोनो बॉल को करीब 20 मिनिट तक चूसता रहा और तनु अपने हाथ से मेरे लंड को पकड़ के दबा रही थी मुझे भी बहुत मज़ा आ रहा था पहली बार कोई लड़की मेरे लंड को दबा रही थी मुझे कुछ समझ मे नही आ रहा था मैं एकदम सातवें आसमान मे था मैं अब धीरे धीरे अपना राइट हाथ तनु की पेंटी मे डाल कर अपने बीच वाली फिंगर से उसकी चूत मे डाल कर हिलाने लगा उसकी चूत एकदम गर्म हो चुकी थी और उसकी चूत के दोनो लिप्स एकदम फूले हुये थे क्योकी तनु अभी तक वर्जिन थी उसे अभी तक किसी ने चोदा नही था अब मेरी इच्छा और बढ़ गई थी.

मैंने धीरे धीरे तनु की पेंटी निकाल दी अब तनु मेरे सामने बेड पर पूरी तरह से नंगी लेटी हुई थी और उसकी चूत पर हल्के हल्के बाल थे और उसकी चूत एकदम टाइट और फूली हुई थी और तनु की चूत हल्की हल्की काँप भी रही थी क्योकी वो आज पहली बार चुदने जा रही थी मैंने भी अपना टी-शर्ट और लोवर निकाल दिया और अब मैं भी पूरी तरह से नंगा था और तनु के उपर लेटा हुआ था मैं अब एक हाथ से तनु के बॉल को दबाता और दूसरे बॉल को चूस रहा था तनु के बॉल के दोनो निपल एकदम कड़क हो गये थे और तनु ज़ोर ज़ोर से आहहाआहह……. उूऊऊऊउउ…. ऊऊऊओह……….अरमान..आइ लव यू कर रही थी तनु की इस तरह की आवाज़ सुन कर मैं भी बहुत ज़्यादा एग्जाइटेड हो गया था.

अब मुझसे भी कंट्रोल नही हो रहा था और अब मैं तनु की चूत के पास अपना मुँह ले गया और हल्का सा तनु की चूत को किस किया तो तनु सहम गई और उसने अपने दोनो हाथों से मेरे बाल और हाथ को पकड़ लिया और अब मुझे भी तनु की चूत की खुशबू पसंद आने लगी और मैं भी उसकी चूत को ज़ोर ज़ोर से चाटने लगा और तनु की चूत से लगातार पानी निकल रहा था और तनु पागल हो रही थी एग्जाइटेड की वजह से फिर मैं अपना लंड तनु की चूत के उपर रगड़ने लगा और अब उसे भी मज़ा आ रहा था.

तनु : अरमान अब और कंट्रोल नही हो रहा है प्लीज…. अपना लंड मेरी चूत मे डाल के मुझे ज़ोर ज़ोर से चोदो ना मैं भी अपना लंड तनु की चूत मे डालने लगा लेकिन तनु की चूत टाइट होने की वजह से मुझे भी दर्द हो रहा था लेकिन मैंने भी सोच लिया था की मुझे आज तनु को चोदना ही है तो मैं धीरे धीरे अपना लंड तनु की चूत मे डालने लगा अब उसे भी दर्द हो रहा था उसने अपने दोनो पैरों को एकदम कड़क कर लिया था मैं अब धीरे धीरे अपना लंड तनु की चूत मे डाल रहा था और करीब आधा लंड जाने के बाद तनु की आवाज़ निकल गई और उसकी वर्जिनिटी ढीली हो चुकी थी और उसे अब दर्द हो रहा था मैंने फिर अपना लंड थोड़ा और अंदर डाला तो उसे और दर्द हुआ फिर मैंने 5 मिनिट तक अंदर बाहर करने के बाद अपना लंड तनु की चूत मे से निकाल लिया तो देखा तो मेरे लंड पर 1-2 ड्रॉप्स खून लगा हुआ है मैं समझ गया की तनु अब अच्छे से चुदाने के लिये पूरी तरह से तैयार है मैंने फिर देर ना करते हुये अपना मोटा लंड तनु की चूत मे डाल दिया उसे फिर से दर्द हुआ लेकिन इस बार उसे ज़्यादा मज़ा आ रहा था और अब मैंने अपना पूरा 7 इंच का लंड तनु की चूत मे घुसा दिया था अब उसे भी मज़ा आ रहा था मैंने भी अपना स्पीड बढ़ा दिया उसे ओर भी मज़ा आ रहा था.
तनु : अरमान और ज़ोर ज़ोर से चोदो ना मुझे और ज़ोर….. से……. कम जान…….. ऊऊऊऊहह.
मे : हाँ जानेमन मैं भी आज तुझे ज़ोर ज़ोर से चोद चोद के रंडी बना दूँगा और मैं भी उसे ज़ोर ज़ोर से शॉट मारने लगा और तनु भी मेरा साथ देने लगी तनु अपनी कमर उठा उठा के अपनी चूत और ज़ोर ज़ोर से मरवा रही थी करीब 20 मिनिट तक तनु को चोदने के बाद तनु ने बोला की मुझे कुछ हो रहा है कुछ निकलने वाला है मैं समझ गया मैंने भी अपनी स्पीड और बड़ा दी और ज़ोर ज़ोर से चोदने लगा तभी तनु ने मुझे ज़ोर से गले लगा लिया और उसने अपना पानी छोड़ दिया मैंने भी अपनी स्पीड बड़ा कर तनु को चोद रहा था तभी मेरा भी स्पर्म निकल गया और मैंने अपना पूरा पानी तनु की चूत में ही छोड़ दिया और उसके बाद मैं तनु के उपर ही लेट गया मेरा लंड अब भी तनु की चूत मे था हम 20 मिनिट के बाद फिर उठे और मैंने तनु को फिर से चोदा अब वो पहले से ज़्यादा मज़ा ले रही थी. उसके बाद मैं शाम को मेडिकल स्टोर से एक ई-पिल की गोली तनु को ला कर दी ताकि वो प्रेंग्नेंट ना हो जाये।

उस दिन हमने 3 बार सेक्स किया और साथ मे नहाये भी और जब भी मैं दिल्ली जाता हूँ तो तनु को चोदता हूँ .